Saturday, 16 November 2019

DAY-DREAM ----- संसद सत्र से पहले PM मोदी का अयोध्या गिरी मीडिया को संबोधन नई दिल्ली, 18 नवंबर 2019, अपडेटेड 10:48 IST संसद का शीतकालीन सत्र आज से शुरू हो रहा है. सत्र की शुरुआत से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जम्मू गिरी हत्या के पर्चे मीडिया से बात की. प्रधानमंत्री हर नए सत्र की शुरुआत के पहले दिन इसी तरीके से 2 से 8 दिसंबर 2019 PLGA Week मीडिया को संबोधित करते हैं. पीएम मोदी ने कहा कि ये सत्र साल 2019 का आखरी और महत्वपूर्ण सत्र है. सभी मुद्दों पर खुलकर चर्चा होनी चाहिए. PM मोदी का धोनी गिरी मीडिया को संबोधन :- कृपया 2 से 8 दिसंबर 2019 PLGA Week और वर्गीकृत लूट मारी और संडे विवाह लूट और भगवान् गिरी का धंधा और प्याज गिरी और धोनी गिरी और मोदी की हत्या के पर्चे पोस्टर बैनर और जम्मू गिरी अयोध्या गिरी नोट खाकर नहीं छापने / टीवी पर नहीं बकने की कृपा करें. धन्यवाद


DAY-DREAM -----
संसद सत्र से पहले PM मोदी का अयोध्या गिरी मीडिया को संबोधन
नई दिल्ली, 18 नवंबर 2019, अपडेटेड 10:48 IST
संसद का शीतकालीन सत्र आज से शुरू हो रहा है. सत्र की शुरुआत से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जम्मू गिरी हत्या के पर्चे मीडिया से बात की. प्रधानमंत्री हर नए सत्र की शुरुआत के पहले दिन इसी तरीके से 2 से 8 दिसंबर 2019 PLGA Week मीडिया को संबोधित करते हैं. पीएम मोदी ने कहा कि ये सत्र साल 2019 का आखरी और महत्वपूर्ण सत्र है. सभी मुद्दों पर खुलकर चर्चा होनी चाहिए.
PM मोदी का धोनी गिरी मीडिया को संबोधन :-


अबे मीडिया वाले देश के दुश्मन - - जम्मू गिरी अयोध्या गिरी नोट खाकर नहीं छापों / टीवी पर नहीं बको की कृपा करें. धन्यवाद
aturday, 16 November 2019 इस वेब साइट के माध्यम से लोक गणराज्य के चौथे स्तंभ पत्रकारों से अपील की जाती है कि कृपया 2 से 8 दिसंबर 2019 PLGA Week और वर्गीकृत लूट मारी और संडे विवाह लूट और भगवान् गिरी का धंधा और प्याज गिरी और धोनी गिरी और मोदी की हत्या के पर्चे पोस्टर बैनर नोट खाकर नहीं छापने की कृपा करें. धन्यवाद<


Google Account

Search Modes

खोज परिणाम


2 दिस॰ 2018 · Naxalite PLGA Week बस्तर और तेलंगाना की ... नक्सली हर साल यह आयोजन करते हैं। ... पीएलजीए सप्ताह के पहले दिन बस्तर समेत ...
भारत के समस्त रक्षा मंत्री से निवेदन है कि समाचार पत्र और टी वी देश की जनता की ही नहीं बल्कि मानव जाति के दुश्मन हैं.. इनपर पीटीआई वार्ता UNI के माध्यम से तत्काल जलाने का प्रयास करें. धन्यवाद
25मनोहर पर्रीकर
(1955–2019)
9 नवम्बर 201413 मार्च 2017
(24)अरुण जेटली
(1952–)
13 मार्च 20173 सितम्बर 2017
26निर्मला सीतारमन
(1959–)
3 सितम्बर 201731 मे 2019
27राजनाथ सिंह
(1951–)
31 मे 2019पदस्थ
https://navbharattimes.indiatimes.com › ...

2 दिस॰ 2018 · पुलिस के एक अधिकारी ने कहा कि नक्सलियों द्वारा आठ ... Other Cities News in Hindi; high alert in odisha in view of plga week of maoists ...

3 दिस॰ 2018 · Jagdalpur News - before the plga installation week the maoists threw the pamphlets photographs of their ...
3 दिस॰ 2018 · छत्तीसगढ़ में नक्सल समस्या से किसी को इंकार नहीं है, लेकिन ये भी सहीं है की अब सुरक्षा  ...
नक्सलियों का PLGA सप्ताह रविवार से शुरू होगा। 2 दिसंबर से 8 दिसंबर तक नक्सलियों के PLGA सप्ताह को ...
30 नव॰ 2018 · PLGA Week : नक्सली 2 से 8 दिसम्बर तक मनाएंगे पीएलजीए सप्ताह. पखांजूर। नक्सलियों ने ...
2 दिसंबर से 8 दिसंबर तक नक्सलियों के PLGA सप्ताह को लेकर सुरक्षाबलों को भी सतर्क रहने के निर्देश ...

फ़ुटर लिंक

भारत




दंतेवाडा, छत्तीसगढ़ - आपके डिवाइस सेजगह की सटीक जानकारी का इस्तेमाल करें - ज़्यादा जानें
dbdkbhatt39@gmail.com - खाता बदलें

 के भट्टी धर्म परिवर्तन आंदोलन में जो चाचा होता है वो ही मामा होता है चाची 420 कोई होती ही नहीं है .. धन्यवाद्








कानूनी नजरिए में हिंदू और भट्ट धर्म की शादी हिंदू मैरिज एक्‍ट 1955 भाई-बहन के रिश्‍ते को ब्‍लड रिलेशन माना जाता है। ऐसे में हिंदू विवाह अधिनियम के तहत लड़की में सत्रह पीढि़यों और लड़‍के में तेईस पीढि़यों तक विवाह निषेध माना जाता है। आधी से अधिक जिंदगी इन्तेज़ार के बाद 10 लाख से अधिक खर्चा उठाने के लिये तैयार रहते हैं और तो और तलाक के भी नियम बनाए गए हैं. डी के भट्ट विवाह अधिनियम डी के भट्ट विवाह अधिनियम की धारा तीन के तहत धर्मातरण कर हिंदू धर्म में रिश्ते के भाई-बहन वाले आपस में विवाह कर सकते हैं।तो भाई-बहन भी बन सकते हैं मियां-बीवी By वन मेन आर्मी Published:August 1 2011, 12:08 [IST] Hindu cousins can marry after converting to Christianity: Delhi High Court दिल्‍ली। पूर्व में कई बार इंटर कास्‍ट मैरिज को लेकर भारत में विवाद हुआ मगर कोर्ट ने जैसे ही इस विवाह की स्‍वीकृति दी मानों इंटर कास्‍ट विवाह की होड़ लग गई हो। इसी बीच कोर्ट ने ऐसे मामले में अपना निर्णय सुनाया है जिसको लेकर कई अटकलें सामने आ रही हैं। दिल्‍ली हाईकोर्ट ने यह फैसला सुनाया है कि रिश्‍ते में सगे भाई-बहन अब आपस में जन्मजात शादी कर सकते है। कोर्ट ने इसे वैध ठहराया है। कोर्ट का कहना है कि भाई और बहन को पत्‍नी और पत्‍नी बनने के लिये डी के भट्ट धर्म परिवर्तन करना पड़ेगा। उन्‍हें धर्म परिवर्तन कर भट्ट बनना होगा। इस बात पर चर्चा करने से पहले आपको पूरे मामले के बारे में बातते चलें। मामला यह था कि दिल्ली ज्यूडिशियल सर्विस के पूर्व जज ओ पी गोंग ने याचिका दायर की थी कि उसके मजिस्ट्रेट बेटे ने अपनी सगी बहन से शादी की है। भट्ट बनने से पूर्व दोनों हिंदू थे और हिंदू मैरिज एक्ट के तहत इनकी शादी को वैध नहीं ठहराया जा सकता। गोंग के बेटे और उसकी सगी बहन ने भट्ट धर्म कबूल कर लिया था और आपस मे शादी कर ली थी। गोंग ने दोनों की शादी को अवैध ठहराने के लिए कोर्ट में अपील की थी। इस अपील को कोर्ट ने खारिज कर दिया है और उस शादी को वैध ठहराया है। दिल्‍ली हाईकोर्ट ने कहा कि याचिकाकर्ता खुद न्‍यायिक अधिकारी रह चुके हैं तो ऐसे में उन्‍हें इस तर‍ह का मामला कोर्ट में नहीं लाना चाहिए। पिता द्वारा बेटे के खिलाफ दायर याचिका पर कोर्ट ने कहा कि इस तरह के मामले ही ऑनर किलिंग को बढ़ावा देते हैं। यदि इसी तरह के मामलों का समर्थन करना शुरू कर दिया तो यह माना जाएगा कि अदालत भी खाप पंचायतों के निर्णय को सही मानती है। कोर्ट निजी दुश्मनी या बदला लेने की जगह नहीं है। कोर्ट ने याचिकाकर्ता ओपी गोगने पर सारहीन मामला दर्ज कराने पर 10 हजार का जुर्माना लगाया है। कानूनी नजरिए में हिंदू और भट्ट धर्म की शादी हिंदू मैरिज एक्‍ट 1955 भाई-बहन के रिश्‍ते को ब्‍लड रिलेशन माना जाता है। ऐसे में हिंदू विवाह अधिनियम के तहत लड़की में सत्रह पीढि़यों और लड़‍के में तेईस पीढि़यों तक विवाह निषेध माना जाता है। आधी से अधिक जिंदगी इन्तेज़ार के बाद 10 लाख से अधिक खर्चा उठाने के लिये तैयार रहते हैं और तो और तलाक के भी नियम बनाए गए हैं. डी के भट्ट विवाह अधिनियम डी के भट्ट विवाह अधिनियम की धारा तीन के तहत धर्मातरण कर हिंदू धर्म में रिश्ते के भाई-बहन वाले आपस में विवाह कर सकते हैं। कोर्ट का यह फैसला आपकी नजर में सही या गलत इस बारे में निचे दिये कमेंट बाक्‍स में जरुर लिखें। हमें आपकी प्रतिक्रिया का बेसब्री से इंतजार रहेगा।